Saturday, March 2, 2024
HomeकोरबाKorba: कैबिनेट मंत्री लखन से भेंट कर नगरीय प्लेसमेंट कर्मचारी संघ ने...

Korba: कैबिनेट मंत्री लखन से भेंट कर नगरीय प्लेसमेंट कर्मचारी संघ ने दिलाया जन घोषणा पत्र का वादा

कोरबा। छत्तीसगढ़ नगरीय निकाय प्लेसमेंट कर्मचारी महासंघ के एक प्रतिनिधि मंडल ने रविवार को कैबिनेट मंत्री लखन लाल देवांगन से उनके निवास पर सौजन्य मुलाकात की। इस अवसर श्री देवांगन का स्वागत-अभिनंदन किया गया और संगठन की ओर से ज्ञापन भी सौंपा गया। इस माध्यम से संघ ने चुनाव पूर्व जन घोषणा पत्र में किए वादे का स्मरण कराते हुए यथाशीघ्र उनका इंप्लीमेंट किए जाने की गुजारिश की गई है।

छत्तीसगढ़ नगरीय प्लेसमेंट कर्मचारी महासंघ के कोरबा जिलाध्यक्ष अविनाश सिंह की अगुआई में अपनी समस्या से अवगत कराते हुए मंत्री श्री देवांगन से आग्रह किया गया है कि सरकार बनने के 100 दिन के भीतर एक कमेटी गठित कर कर्मचारियों की समस्या एवं मांगों की समीक्षात्मक प्रक्रिया आरंभ करने की दिशा में कार्यवाही शुरू किए की मांग की गई है।

अपने पत्र के माध्यम से बताया गया है कि संघ के अंतर्गत कुल 172 नगरीय निकायों (नगर निगम, नगर पालिका व नगर पंचायत) में विगत कई वर्षों से कार्यरत 25,000 प्लेसमेंट कर्मचारियों का एक मात्र संगठन है। भाजपा के जनघोषणा पत्र छत्तीसगढ़ के लिए मोदी की गारंटी के हमारा वादा में सरकार बनने के 100 दिनों के भीतर छत्तीसगढ़ के सरकारी विभागों में कार्यरत कर्मचारियों की समस्याओं एवं मांगों की समीक्षात्मक प्रक्रिया आरम्भ करने एवं मार्ग प्रशस्त करने के लिए एक कमिटी का गठन करेंगे। जिसमें अनियमित कर्मचारी संगठनों के पदाधिकारी भी सदस्य होंगे, यह वादा किया हुआ है। छत्तीसगढ़ नगरीय निकाय प्लेसमेंट कर्मचारी महासंघ द्वारा विगत कई वर्षों से नगरीय निकायों से प्लेसमेंट ठेका प्रथा बंद करते हुए निकायों में समायोजन कर एक निश्चित अवधि में नियमित करने की दो सूत्रीय मांगों को लेकर धरना-प्रदर्शन कर अपनी मांगों के लिए लड़ते आ रहे हैं।

नियमित कर्मियों के समान निष्ठा से कार्य पर जब मर्जी हटा दिए

निकाय के प्लेसमेंट कर्मचारी शासन के भी योजनाओं का क्रियान्वयन एवं सभी प्रकार के शासन के नियमित कार्यों को एक नियमित कर्मचारी की तरह निष्ठा के साथ करते आ रहे है। लेकिन निकाय में मनमाने ढंग से कभी भी प्लेसमेंट कर्मचारी को बिना किसी कारण के कार्य से हटा दिया जाता है। आज एक प्लेसमेंट कर्मकारी की जो दशा है वह बहुत ही दयनीय है, वेतन विसंगति के कारण बच्चों के शिक्षा, परिवार के पालन-पोषण के कष्टों का सामना करना पड़ रहा है। संघ का प्रस्ताव पत्र संलग्न है। श्री देवांगन से आग्रह किया गया है कि उक्त कमेटी में हमारे महासंघ से प्रदेश अध्यक्ष संजय एड़े एवं संभाग अध्यक्ष कौशलेद्र सिंह राणा एवं जिलाध्यक्ष के पदाधिकारियों को शामिल करने की कृपा करेंगे।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments