Monday, July 15, 2024
HomeUncategorizedCG Breaking News: वन विभाग के SDO पर जानलेवा हमला

CG Breaking News: वन विभाग के SDO पर जानलेवा हमला

CG Breaking News: the duniyadari मरवाही वनमंडल के गौरेला एसडीओ के कार्यालय में जांच और गवाही देने पहुंचे कटघोरा वनमंडल के वनविभाग के एसडीओ संजय त्रिपाठी पर जानलेवा हमला हुआ है जिनको गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. दरअसल कटघोरा वनमंडल में पदस्थ एसडीओ संजय त्रिपाठी पूर्व में मरवाही वनमंडल में एसडीओ और प्रभारी डीएफओ के पद पर रह चुके हैं. उनकी मरवाही में पदस्थापना के दौरान उनके सहित तत्कालीन डीएफओ और सीसीएफ के खिलाफ करोड़ों रूपये के भ्रष्टाचार की शिकायत हुई थी जिसकी जांच गौरेला एसडीओ के सिदार के द्वारा की जा रही है.

इसी शिकायत की जांच के लिये संजय त्रिपाठी को तलब किया गया था और आज जब संजय त्रिपाठी जांच में बयान और गवाही देने के लिये गौरेला एसडीओ एके सिदार के कार्यालय कक्ष में थे तभी मरवाही वनमंडल में ही पदस्थ लिपिक परमेश्वर गुर्जर पहुंचा और मोटे प्लास्टिक के डंडे से संजय त्रिपाठी पर हमला कर दिया जिससे संजय लहूलुहान हो गए पूरी घटना एसडीओ गौरेला के सामने घटी और बाद में तत्काल प्राथमिक उपचार किया गया और गौरेला पुलिस को सूचना दी गयी तथा घायल संजय त्रिपाठी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

बता दें कि संजय त्रिपाठी भ्रष्टाचार के आरोपों के चलते काफी विवादों में भी रहे हैं और वो छत्तीसगढ़ में पदस्थ आईएएस चंदन त्रिपाठी के पति हैं. यहां पदस्थापना के दौरान उन्होने लिपिक परमेश्वर गुर्जर के खिलाफ शिकायत की जांच करते हुये बर्खास्तगी की अनुशंसा की थी जिस पर परमेश्वर गुर्जर बर्खास्त हुआ था हालांकि बाद में बिलासपुर सीसीएफ राजेश चंदेले ने परमेश्वर गुर्जर को तो बहाल कर दिया था पर दोनों के बीच मतभेद लगातार जारी रहा.

आज जब संजय त्रिपाठी पहुंचे उसके बाद परमेश्वर गुर्जर पहुंचा और एसडीओ का फिलहाल जिला अस्पताल में इलाज जारी है. वहीं पुलिस ने फिलहाल परमेश्वर गुर्जर को थाने में बैठा लिया है जबकि परमेश्वर गुर्जर का कहना है कि वो काम से एसडीओ कार्यालय गया था पर वहीं उसको देखते ही एसडीओ संजय त्रिपाठी और उसके वाहन चालक उसको मारने के लिये दौड़ाये और इस दौरान ही एसडीओ गिरकर चोटिल हुये हैं. वहीं उसने भी गौरेला थाना में एसडीओ के खिलाफ शिकायत की है, बहरहाल पुलिस दोनों पक्षों का बयान दर्ज कर आगे की कार्यवाही में जुट गयी है. जबकि प्रत्यक्षदर्शियों के द्वारा लिपिक के द्वारा ही एसडीओ पर डंडे से हमला किये जाने की बात कही गयी है.

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments